Trading Psychology In Hindi

Start Reading

आज हमने आपके ट्रेडिंग साइकोलॉजी को बेहतर-से बेहतर बनाने के लिए trading psychology की एक शक्तिशाली सूची तैयार की है। जिसका इस्तेमाल करके आप एक प्रॉफिटेबल ट्रेडर बन पाएंगे 

01

ट्रेडिंग करते बक्त अपने भावनाओ को अपने ऊपर हावी न होने दे 

02

भय और लालच से निपटना सीखे, क्यूंकि भय और लालच ही आपको ट्रेडिंग करते वक़्त भटकाते है जिससे अंत में बस लोस्स ही होता है 

03

धैर्यवान एवं अनुशासित रहना धैर्यवान होने का अर्थ है ट्रेड करने के लिए सही समय की प्रतीक्षा करना। अनुशासन का अर्थ है किसी योजना पर टिके रहना और आवेग में निर्णय न लेना

04

सकारात्मक सोचे, सकारात्मक सोच हमें चुनौतियों से उबरने और बेहतर ट्रेडर बनने में मदद करती है। इसलिए हमेशा पॉजिटिव सोचे और अपने साइकोलॉजी को बेहतर बनाये

05

ट्रेडिंग जर्नल रखना हमारे ट्रेडों की डायरी लिखने जैसा है। इससे हमें इस बात पर नज़र रखने में मदद मिलती है कि हमने क्या किया और उससे क्या सीखा। 

06

जोखिम को स्मार्ट तरीके से मैनेज करना सीखे हमेशा आपको ट्रेडिंग करते बक्त एक समझदार मनी मैनेजर की तरह व्यबहार करना चाहिए जो कभी भी अपने सभी अंडे एक टोकरी में नहीं रखता है,

07

लॉसेस से निपटना सीखे दोस्तों लॉसेस एक ऐसी चीज़ है जिसका अनुभव हर किसी को ट्रेडिंग करते समय होता है। Maybe ये आपके साथ भी होता है, दोस्तों यह ट्रेडिंग जर्नी का एक स्वभाविक हिस्सा है,

08

 ट्रेडिंग कभी-कभी उतार-चढ़ाव भरी हो सकती है, खासकर तब जब चीजें हमारी प्लानिंग के अनुसार नहीं होती हैं। आपके लिए यह महत्वपूर्ण है कि आप शांत रहें और अपनी भावनाओं को अपने ऊपर हावी न होने दें।

09

हमेशा सीखते रहें और सुधार करते रहेंम,  सीखने और अपने स्किल को निखारने से, आप समय के साथ लगातार एक बेहतर और अधिक सफल ट्रेडर बन सकते हैं।

10

आवेशपूर्ण निर्णयों से बचे, इसका अर्थ है बिना सोचे समझे किसी भी ट्रेड में घुसने से बचना 

ट्रेडिंग साइकोलॉजी के बारे में और अधिक जानने के लिए निचे लिंक पर क्लिक करे 

Read Now
G-H1PMN7NP51